Skip to main content

गौतम बुद्ध के सुविचार



Text Copied
“ ख़ुशी अपने पास बहुत अधिक होने के बारे में नहीं है, ख़ुशी बहुत अधिक देने के बारे में है ”
– गौतम बुद्ध
“ सभी व्यक्तियों को सजा से डर लगता है, सभी मौत से डरते हैं। बाकी लोगों को भी अपने जैसा ही समझिए, खुद किसी जीव को ना मारें और दूसरों को भी ऐसा करने से मना करें। ”
– गौतम बुद्ध
“ सभी प्राणियों के लिए दया-भाव रखें, चाहे वो अमीर हो या गरीब; सबकी अपनी-पानी पीड़ा है, कुछ बहुत अधिक भुगतते हैं, कुछ बहुत कम ”
– गौतम बुद्ध
“ सबसे अँधेरी रात अज्ञानता है ”
– गौतम बुद्ध
“ सच्चा प्रेम समझ से उत्पन्न होता है ”
– गौतम बुद्ध
“ शांतिप्रिय लोग आनंद से जीवन जीते हैं और उन पर हार या जीत का कोई प्रभाव नहीं पड़ता। ”
– गौतम बुद्ध
“ शांति अन्दर से आती है, इसे बाहर मत ढूंढो ”
– गौतम बुद्ध
“ शरीर को स्वस्थ रखना हमारा कर्त्तव्य है, नहीं तो हम अपने दिमाग को मजबूत अवं स्वच्छ नहीं रख पाएंगे ”
– गौतम बुद्ध
“ यदि आप दिशा नहीं बदलते हैं तो संभवतः आप वहीँ पहुँच जायेंगे जहाँ आप जा रहे हैं ”
– गौतम बुद्ध
“ बुराई अवश्य रहनी चाहिए तब ही अच्छाई इसके ऊपर अपनी पवित्रता साबित कर सकती है। ”
– गौतम बुद्ध
“ धैर्य महत्त्वपूर्ण है, याद रखिये: एक जग बूँद-बूँद करके भरता है ”
– गौतम बुद्ध
“ ज्ञानी व्यक्ति कभी नहीं मरते और जो नासमझ हैं, वे तो पहले से ही मरे हुए हैं। ”
– गौतम बुद्ध
“ जूनून जैसी कोई आग नहीं है, नफरत जैसा कोई दरिंदा नहीं है, मूर्खता जैसी कोई जाल नहीं है, लालच जैसी कोई धार नहीं है ”
– गौतम बुद्ध
“ जीवन में आपका उद्देश्य अपना उद्देश्य पता करना है और उसमे जी-जान से जुट जाना है, जो आप सोचते हैं वो आप बन जाते हैं ”
– गौतम बुद्ध
“ जिस तरह से लापरवाह रहने पर, घास जैसी नरम चीज की धार भी हाथ को घायल कर सकती है, उसी तरह से धर्म के असली स्वरूप को पहचानने में हुई गलती आपको नरक के दरवाजे पर पहुंचा सकती है। ”
– गौतम बुद्ध
“ जब आपको पता चलेगा कि सबकुछ कितना सही है तब आप अपना सर पीछे झुकायेंगे और आकाश की और देखकर मुस्कुराएंगे ”
– गौतम बुद्ध
“ चाहे आप जितने पवित्र शब्द पढ़ लें या बोल लें, वो आपका क्या भला करेंगे जब तक आप उन्हें उपयोग में नहीं लाते? ”
– गौतम बुद्ध
“ खुशियों का कोई रास्ता नहीं, खुश रहना ही रास्ता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ कोई भी व्यक्ति बहुत ज्यादा बोलते रहने से कुछ नहीं सीख पाता, समझदार व्यक्ति वही कहलाता है जोकि धीरज रखने वाला, क्रोधित न होने वाला और निडर होता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ किसी चीज पर यकीन मत करो, ये मायने नहीं रखता कि आपने उसे कहाँ पढ़ा है, या किसने उसे कहा है, कोई बात नहीं अगर मैंने ये कहा है, जब तक कि वो आपके अपने तर्क और समझ से मेल नही खाती ”
– गौतम बुद्ध
“ एक मूर्ख व्यक्ति एक समझदार व्यक्ति के साथ रहकर भी अपने पूरे जीवन में सच को उसी तरह से नहीं देख पाता, जिस तरह से एक चम्मच, सूप के स्वाद का आनंद नहीं ले पाता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ उसने मेरा अपमान किया, मुझे कष्ट दिया, मुझे लूट लिया, जो व्यक्ति जीवन भर इन्हीं बातों को लेकर शिकायत करते रहते हैं, वे कभी भी चैन से नहीं रह पाते हैं। सुकून से वही व्यक्ति रहते हैं, जो खुद को इन बातों से ऊपर उठा लेते हैं। ”
– गौतम बुद्ध
“ इस तिहरे सत्य को सभी को सिखाओ: एक उदार दिल, दयालु भाषण, तथा सेवा और करुणा का जीवन, ये वो चीजें हैं जो मानवता को नवीनीकृत करती हैं ”
– गौतम बुद्ध
“ इच्छाओं का कभी अंत नहीं होता। अगर आपकी एक इच्छा पूरी होती है, तो दूसरी इच्छा तुरंत जन्म ले लेती है। ”
– गौतम बुद्ध
“ अपने बराबर या फिर अपने से समझदार व्यक्तियों के साथ सफ़र कीजिये, मूर्खो के साथ सफ़र करने से अच्छा है अकेले सफ़र करना। ”
– गौतम बुद्ध
“ अज्ञानी आदमी एक बैल के समान है। वह ज्ञान में नहीं, आकार में बढ़ता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ अगर थोड़े से आराम को छोड़ने से व्यक्ति एक बड़ी खुशी को देख पाता है, तो एक समझदार व्यक्ति को चाहिए कि वह थोड़े से आराम को छोड़कर बड़ी खुशी को हासिल करे। ”
– गौतम बुद्ध
“ हर दिन की अहमियत समझें – इंसान हर दिन एक नया जन्म लेता है हर दिन एक नए मकसद को पूरा करने के लिए है इसलिए एक-एक दिन की अहमियत समझें। ”
– गौतम बुद्ध
“ हर अनुभव कुछ न कुछ सिखाता है – हर अनुभव महत्वपूर्ण है, क्योंकि हम अपनी गलतियों से ही सीखते हैं। ”
– गौतम बुद्ध
“ हम जो बोलते हैं अपने शब्दों को देखभाल के चुनना चाहिए कि इससे सुनने वाले पर क्या प्रभाव पड़ेगा, अच्छा या बुरा। ”
– गौतम बुद्ध
“ हम आपने विचारों से ही अच्छी तरह ढलते हैं; हम वही बनते हैं जो हम सोचते हैं जब मन पवित्र होता है तो ख़ुशी परछाई की तरह हमेशा हमारे साथ चलती है ”
– गौतम बुद्ध
“ हजारों लड़ाइयाँ जितने से बेहतर है कि आप खुद को जीत लें, फिर वो जीत आपकी होगी जिसे कोई आपसे नहीं छीन सकता ना कोई स्वर्गदूत और ना कोई राक्षस। ”
– गौतम बुद्ध
“ हजारों दियो को एक ही दिए से, बिना उसके प्रकाश को कम किये जलाया जा सकता है ख़ुशी बांटने से ख़ुशी कभी कम नहीं होती ”
– गौतम बुद्ध
“ स्वास्थ्य सबसे महान उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन तथा विश्वसनीयता सबसे अच्छा संबंध है”
– गौतम बुद्ध
“ स्वस्थ्य सबसे बड़ा उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन है, वफ़ादारी सबसे बड़ा सम्बन्ध है। ”
– गौतम बुद्ध
“ सभी गलत कार्य मन से ही उपजाते हैं अगर मन परिवर्तित हो जाय तो क्या गलत कार्य रह सकता है ”
– गौतम बुद्ध
“ सत्य के रस्ते पर कोई दो ही गलतियाँ कर सकता है, या तो वह पूरा सफ़र तय नहीं करता या सफ़र की शुरुआत ही नहीं करता ”
– गौतम बुद्ध
“ सत्य के मार्ग पर चलते हुए व्यक्ति केवल दो ही गलतियाँ कर सकता है या तो पूरा रास्ता न तय करना या फिर शुरुआत ही न करना। ”
– गौतम बुद्ध
“ शक की आदत सबसे खतरनाक है। शक लोगो को अलग कर देता है। यह दो अच्छे दोस्तों को और किसी भी अच्छे रिश्ते को बरबाद कर देता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ वह व्यक्ति जो 50 लोगों को प्यार करता है, 50 दुखों से घिरा होता है, जो किसी से भी प्यार नहीं करता है उसे कोई संकट नहीं है ”
– गौतम बुद्ध
“ मैं कभी नहीं देखता की क्या किया जा चुका है; मैं हमेशा देखता हूँ कि क्या किया जाना बाकी है। ”
– गौतम बुद्ध
“ मनुष्य का दिमाग ही सब कुछ है, जो वह सोचता है वही वह बनता है " ------------- "जीभ एक तेज चाकू की तरह बिना खून निकाले ही मार देता है ”
– गौतम बुद्ध
“ भूतकाल में मत उलझो, भविष्य के सपनों में मत खो जाओ वर्तमान पर ध्यान दो यही खुश रहने का रास्ता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ बिना सेहत के जीवन, जीवन नहीं है; बस पीड़ा की एक स्थिति है – मौत की छवि है। ”
– गौतम बुद्ध
“ परमात्मा ने हर इंसान को एक जैसा बनाया है अंतर सिर्फ हमारे मस्तिष्क के अंदर है। ”
– गौतम बुद्ध
“ निष्क्रिय होना मृत्यु का एक छोटा रास्ता है, मेहनती होना अच्छे जीवन का रास्ता है, मूर्ख लोग निष्क्रिय होते हैं और बुद्धिमान लोग मेहनती। ”
– गौतम बुद्ध
“ निश्चित रूप से जो नाराजगी युक्त विचारों से मुक्त रहते हैं वही शांति पाते हैं। ”
– गौतम बुद्ध
“ तीन चीजों को लम्बी अवधि तक छुपाया नहीं जा सकता, सूर्य, चन्द्रमा और सत्य ”
– गौतम बुद्ध
“ जो गुजर गया उसके बारे में मत सोचो और भविष्य के सपने मत देखो केवल वर्तमान पे ध्यान केंद्रित करो। ”
– गौतम बुद्ध
“ जिस तरह एक मोमबत्ती बिना आग के खुद नहीं जल सकती, उसी तरह एक इंसान बिना आध्यात्मिक जीवन के जीवित नहीं रह सकता। ”
– गौतम बुद्ध
“ चतुराई से जीने वाले लोगों को मौत से भी डरने की जरुरत नहीं है ”
– गौतम बुद्ध
“ घृणा, घृणा करने से कम नहीं होती, बल्कि प्रेम से घटती है, यही शाश्वत नियम है ”
– गौतम बुद्ध
“ गुजरा वक्त वापस नहीं आता – हम अक्सर ऐसा सोचते हैं कि अगर आज कोई काम अधूरा रह गया तो वो कल पूरा हो जाएगा हालांकि जो वक्त अभी गुजर गया वो वापस नहीं आएगा। ”
– गौतम बुद्ध
“ खुशी हमारे दिमाग में है- खुशी,पैसों से खरीदी गई चीजों में नहीं बल्कि खुशी इस बात में है कि हम कैसा महसूस करते हैं, कैसा व्यवहार करते हैं और दूसरे के व्यवहार का कैसा जवाब देते हैं इसलिए असली खुशी हमारे मस्तिष्क में है। ”
– गौतम बुद्ध
“ खुद पर विजय प्राप्त करें- दूसरो के सामने कुछ भी साबित करने से पहले यह जरूरी है कि हम खुद को साबित करें हर इंसान की प्रतिस्पर्धा पहले खुद से होती है इसलिए दूसरों पर जीत हासिल करने से पहले यह जरुरी है कि हम खुद पर जीत हासिल करें। ”
– गौतम बुद्ध
“ क्रोधित रहना, किसी और पर फेंकने के इरादे से एक गर्म कोयला अपने हाथ में रखने की तरह है, जो तुम्ही को जलती है ”
– गौतम बुद्ध
“ किसी परिवार को खुश, सुखी और स्वस्थ रखने के लिए सबसे जरुरी है- अनुशासन और मन पर नियंत्रण। अगर कोई व्यक्ति अपने मन पर नियंत्रण कर ले तो उसे आत्मज्ञान का रास्ता मिल जाता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ एक हजार खोखले शब्दों से एक शब्द बेहतर है जो शांति लता है ”
– गौतम बुद्ध
“ एक निष्ठाहीन और बुरे दोस्त से जानवरों की अपेक्षा ज्यादा भयभीत होना चाहिए ; क्यूंकि एक जंगली जानवर सिर्फ आपके शरीर को घाव दे सकता है, लेकिन एक बुरा दोस्त आपके दिमाग में घाव कर जाएगा।”
– गौतम बुद्ध
“ एक जलते हुए दीपक (मोमबत्ती) से हजारों दीपक रौशन किए जा सकते है, फिर भी उस दीपक की रौशनी कम नहीं होती। उसी तरह खुशियाँ बाँटने से बढ़ती है,कम नहीं होती। ”
– गौतम बुद्ध
“ आपको क्रोधित होने के लिए दंड नहीं दिया जायेगा, बल्कि आपका क्रोध खुद आपको दंड देगा। -------------------"इंसान के अंदर ही शांति का वास होता है,उसे बाहर ना तलाशें। ”
– गौतम बुद्ध
“ आपके पास जो कुछ भी है, उसे बढ़ा-चढ़ा कर मत बताइए, और ना ही दूसरों से ईर्ष्या कीजिये। जो दूसरों से ईर्ष्या करता है उसे मन की शांति नहीं मिलती। ”
– गौतम बुद्ध
“ आप पूरे ब्रह्माण्ड में कहीं भी ऐसे व्यक्ति को खोज लें जो आपको आपसे ज्यादा प्यार करता हो, आप पाएंगे कि जितना प्यार आप खुद से कर सकते हैं उतना कोई आपसे नहीं कर सकता । ”
– गौतम बुद्ध
“ आप चाहे कितने भी पवित्र शब्दों को पढ़ या बोल लें, लेकिन जब तक उनपर अमल नहीं करते उसका कोई फायदा नहीं है ”
– गौतम बुद्ध
“ आप को जो भी मिला है उसका अधिक मूल्याङ्कन न करें और न ही दूसरों से ईर्ष्या करें, वे लोग जो दूसरों से ईर्ष्या करते हैं, उन्हें मन को शांति कभी प्राप्त नहीं होती ”
– गौतम बुद्ध
“ आकाश में पूरब और पश्चिम का कोई भेद नहीं है,लोग अपने मन में भेदभाव को जन्म देते हैं और फिर यह सच है ऐसा विश्वास करते हैं। ”
– गौतम बुद्ध
“ असल जीवन की सबसे बड़ी विफलता है, हमारा असत्यवादी होना। ”
– गौतम बुद्ध
“ अपने उद्धार के लिए स्वयं कार्य करें, दूसरों पर निर्भर नहीं रहें ”
– गौतम बुद्ध
“ अपना रास्ता स्वंय बनाएं – हम अकेले पैदा होते हैं और अकेले मृत्यु को प्राप्त होते हैं, इसलिए हमारे अलावा कोई और हमारी किस्मत का फैसला नहीं कर सकता। ”
– गौतम बुद्ध
“ अतीत पर ध्यान केन्द्रित मत करो, भविष्य का सपना भी मत देखो, वर्तमान क्षण पर ध्यान केंद्रित करो ”
– गौतम बुद्ध
“ अगर आप वाकई में अपने आप से प्रेम करते है,तो आप कभी भी दूसरों को दुःख नहीं पहुंचा सकते। ”
– गौतम बुद्ध
“ हर इंसान अपने स्वास्थ्य या बीमारी का लेखक है। ”
– गौतम बुद्ध
“ सभी बुराइयों से दूर रहने के लिए, अच्छाई का विकास कीजिए और अपने मन में अच्छे विचार रखिये-बुद्ध आपसे सिर्फ यही कहता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ पवित्रता या अपवित्रता अपने आप पर निर्भर करती है, कोई भी दूसरे को पवित्र नहीं कर सकता ”
– गौतम बुद्ध
“ जो व्यक्ति, क्रोधित होने पर अपने गुस्से को संभाल सकता है वह उस कुशल ड्राईवर की तरह है जोकि एक तेजी से भागती हुई गाडी को संभाल लेता है और जो ऐसा नहीं कर पाते, वे केवल अपनी सीट पर बैठे हुए दुर्घटना की प्रतीक्षा करते रहते हैं। ”
– गौतम बुद्ध
“ जिस व्यक्ति का मन शांत होता है, जो व्यक्ति बोलते और अपना काम करते समय शांत रहता है, वह वही व्यक्ति होता है जिसने सच को हासिल कर लिया है और जो दुःख-तकलीफों से मुक्त हो चुका है। ”
– गौतम बुद्ध
“ जिस तरह से तूफ़ान एक मजबूत पत्थर को हिला नहीं पाता, उसी तरह से महान व्यक्ति, तारीफ़ या आलोचना से प्रभावित नहीं होते। ”
– गौतम बुद्ध
“ कोई भी व्यक्ति सिर मुंडवाने से, या फिर उसके परिवार से, या फिर एक जाति में जनम लेने से संत नहीं बन जाता; जिस व्यक्ति में सच्चाई और विवेक होता है, वही धन्य है, वही संत है। ”
– गौतम बुद्ध
“ एक जागे हुए व्यक्ति को रात बड़ी लम्बी लगती है, एक थके हुए व्यक्ति को मंजिल बड़ी दूर नजर आती है। इसी तरह सच्चे धर्म से बेखबर मूर्खों के लिए जीवन-मृत्यु का सिलसिला भी उतना ही लंबा होता है। ”
– गौतम बुद्ध
“ अगर व्यक्ति से कोई गलती हो जाती है, तो कोशिश करें कि उसे दोहराएं नहीं। उसमें आनन्द ढूंढने की कोशिश न करें, क्योंकि बुराई में डूबे रहना दुःख को न्योता देता है। ”
– गौतम बुद्ध

Comments

Popular posts from this blog

1001 Best Life Quotes in Hindi || जीवन से जुड़े अनमोल वचन

“ अंधे को मंदिर आया देखकर लोग हंसकर बोले की,
मंदिर में दर्शन के लिए आये तो हो
पर क्या भगवान् को देख पाओगे ?
अंधे ने मुस्कुरा के कहा की,
क्या फर्क पड़ता है, मेरा भगवान् तो मुझे देख लेगा.
द्रष्टि नहीं द्रष्टिकोण सही होना चाहिए !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अंधेरो से घिरे हो तो घबराए नहीं,
क्यूंकि सितारों को चमकने के लिए,
घनी अँधेरी रात ही चाहिए होती है,
दिन की रौशनी नहीं !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अकेले हम कितना कम,
हांसिल कर सकते है,
साथ में कितना ज्यादा !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अकेले ही गुजरती है जिन्दगी,
लोग तसल्लियाँ तो देते है पर साथ नहीं !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अक्सर लोग झूठी प्रशंसा के मोह जाल में फंस कर,
खुद को बरबाद तो कर लेते है,
पर आलोचना सुनकर खुद को
संभालना भूल जाते है !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अक्सर हमें थकान काम के कारण नहीं,
बल्कि चिंता, निराशा और
असंतोष के कारण होती है !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अगर अँधा अंधे का नेतृत्व करेगा,
तो दोनों खाई में गिरेंगे !! ”Best Life Quotes in Hindi“ अगर आप अतीत को ही याद करते रहेंगे तो
वर्तमान में जीना मुश्किल…

Feminist Quotes in Hindi

“ सभी पुरुषों को नारीवादी होना चाहिए। अगर पुरुष महिलाओं के अधिकारों की परवाह करते हैं, तो दुनिया एक बेहतर जगह होगी। जब महिलाएं सशक्त होती हैं तो हम बेहतर होते हैं। ”-जॉन लीजेंडFeminist Quotes in Hindi“ हालाँकि हमारी बेटियों को अपने बेटों की तरह पालने की हिम्मत है, फिर भी हमने शायद ही कभी अपनी बेटियों की तरह अपनी बेटियों को उठाने की हिम्मत की हो। ” - ग्लोरिया स्टीनम।Feminist Quotes in Hindi“ हमें लैंगिक समानता के बारे में मिथक में खरीद को रोकने की आवश्यकता है। यह अभी तक एक वास्तविकता नहीं है। ”—BeyoncéFeminist Quotes in Hindi“ हमें अपनी खुद की धारणा को नए सिरे से देखना होगा कि हम खुद को कैसे देखते हैं। हमें महिलाओं के रूप में आगे बढ़ना होगा और नेतृत्व करना होगा। ”- बेयोंसेFeminist Quotes in Hindi“ हम ज्वालामुखी हैं। जब हम महिलाएं अपने अनुभव को हमारे सत्य के रूप में, मानवीय सत्य के रूप में पेश करती हैं, तो सभी मानचित्र बदल जाते हैं। नए पहाड़ हैं। "- उर्सुला के। लेगिनFeminist Quotes in Hindi“ शब्दों में शक्ति होती है। टीवी में शक्ति है। मेरी कलम में शक्ति है। ”- शोंडा राइम्सFeminist…

अल्बर्ट आइंस्टीन के सुविचार (Albert Einstein Quotes in Hindi)

"कानून अकेले अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को सुरक्षित नहीं कर सकते हैं, ताकि हर आदमी बिना दंड के अपने विचार प्रस्तुत करे, पूरी आबादी में सहिष्णुता की भावना होनी चाहिए।"
– अल्बर्ट आइंस्टीन"नर्तक भगवान के एथलीट हैं।"
– अल्बर्ट आइंस्टीन"शांति को बल से नहीं रखा जा सकता है। इसे केवल समझ के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।"
– अल्बर्ट आइंस्टीन"। सबसे मजबूत इरादों के लिए जो पुरुषों को कला और विज्ञान की ओर ले जाते हैं, रोजमर्रा की जिंदगी से अपनी दर्दनाक शिथिलता और निराशाजनक निराशा के कारण, अपनी खुद की शिफ्टिंग इच्छाओं के भ्रूण से। एक बारीक स्वभाव वाली प्रकृति लंबे समय से भागने की कोशिश करती है। उद्देश्य धारणा और विचार की दुनिया में व्यक्तिगत जीवन। ”
– अल्बर्ट आइंस्टीन"ब्लैक होल हैं जहाँ भगवान शून्य से विभाजित होते हैं।"
– अल्बर्ट आइंस्टीन"एक आदमी को जो होना चाहिए, उसके लिए देखना चाहिए, न कि वह जो सोचता है उसके लिए होना चाहिए।"
– अल्बर्ट आइंस्टीन"आपको खेल के नियमों को सीखना होगा। और फिर आपको किसी और की तुलना में बेहतर खेलना होगा।"…